English Hindi October 26, 2020

पंजाब

सरदार सुखबीर सिंह बादल ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्विनी शर्मा पर किए गए हमले की निंदा की

October 13, 2020 05:38 PM

चंडीगढ़/13अक्टूबर: शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने आज पंजाब भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के अध्यक्ष अश्विनी शर्मा पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा कि यह असामाजिक तत्वों का काम है जो कृषि मंडीकरण अधिनियमो के खिलाफ चल रहे ‘किसान आंदोलन ’ को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं।

यहां एक प्रेस बयान जारी करते हुए अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नही है और हिंसक गतिविधियों का सहारा लेकर कुछ भी हासिल नही किया जा सकता है। ‘ इस तरह के हमलों का सहारा लेने वाले लोग कभी भी किसान समुदाय के शुभचिंतक नही हो सकते हैं।

सरदार सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस सरकार से कहा है कि वह किसानों को बदनाम करने के लिए इस्तेमाल किए रहे असामाजिक तत्वों पर कार्रवाई करें तथा उन्हे किसी भी तरह से प्रोत्साहित न करे। उन्होने कहा कि हमे स्पष्ट रूप से पता है कि किसान ऐसी किसी भी कार्रवाई में लिप्त नही हो सकते तथा उन पर दोष लगाने के किसी भी प्रयास का हम विरोध करेंगे।

सरदार बादल ने कांग्रेस सरकार से कहा है कि वह इस तरह की घटनाओं को दोबारा होने से रोकने के लिए आवश्यक प्रयास करे। उन्होने हर कीमत पर शंाति और साम्प्रदायिक सौहार्द्र का पालन करने के लिए कहते हुए केंद्र से राज्य में आंदोलनकारी किसानों से बातचीत करें ताकि उनकी शिकायतों का जल्द से जल्द समाधान किया जा सके।

Have something to say? Post your comment

पंजाब

शिरोमणी अकाली दल ने धर्मसोत द्वारा मुख्यमंत्री की तुलना श्री गुरु नानक देव जी के साथ करने पर बेअबदी का लिया गंभीर नोटिस

होशियारपुर जबरन बलात्कार मामले और कत्ल केस में चालान इसी हफ़्ते पेश होगा-कैप्टन अमरिन्दर सिंह

मुख्यमंत्री द्वारा पटियाला निवासियों को दशहरे का तोहफ़ा, खेल यूनिवर्सिटी और नए बस अड्डे का नींव पत्थर रखा

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में चुनावी साक्षरता क्लबों के गठन के निर्देश

‘आप ‘ ने युवा विंग पंजाब की कमांड युवा विधायक मीत हेयर को सौंपी

जंगल राज के लिए जिम्मेदार मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को गृह मंत्रालय तुरंत छोड़ देना चाहिए- माणूके

सुखबीर ने राजनैतिक आधार गंवाया; वह नहीं जानता, क्या कह रहा है - कैप्टन

सरदार सुखबीर सिंह बादल ने मुख्यमंत्री से चार सवाल पूछे?

कैप्टन ने भाजपा नेताओं द्वारा होशियारपुर घटना की आलोचना को राजनैतिक शोशेबाजी बताते हुए रद्द किया

भाजपा हैडक्वाटर घेरने गए ‘आप’ नेताओं पर पुलिस ने किया अत्याचार